Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

महंगाई के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, पुलिस को दौड़ा-दौड़ाकर जलाए CM और PM के पुतले

दमोह: एक तो कोरोना संकट में लोगों की आर्थिक स्थिति वैसे ही डगमगाई हुई है ऊपर से सरकार दिन-प्रतिदिन पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि कर रही है। ऐसे में लोगों की गुस्सा सरकार और केंद्र सरकार पर निकल रहा है। इसी कड़ी में दमोह में जिला युवा कांग्रेस द्वारा देश के प्रधानमंत्री और प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान का बीच चौराहे पर पुलिस की मौजूदगी में पुतला जलाया। हालांकि पुलिस ने युवा कांग्रेस को पुतला जलाने से रोकने की भरपूर कोशिश की लेकिन सफल नहीं हो सकी।

दरसअल प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्रांत भूरिया से मिले दिशानिर्देश पर प्रदेश भर में कांग्रेसियों ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री का पुतला जलाकर मौजूदा सरकार की नीतियों का खुलकर विरोध किया। जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष मंजीत यादव, विधानसभा अध्यक्ष अफजल खान, प्रदेश सचिव रफीक खान, जीशान पठान, सहित अनेक युवा कांग्रेसियों ने अंबेडकर चौक पर पुलिस की घेराबंदी के बावजूद पीएम, सीएम का पुतला फूंका और शंखनाद करते हुए कहा कि कोविड 19 में आम जनता टूटकर रह गई है।

वही भाजपा धर्म के नाम पर राजनीति करके अन्य मुद्दों से भटकाकर रोजाना डीजल-पैट्रोल, रसोई गैस खाद्य तेलों  के अलावा अन्य वस्तुओं की कीमतें बढ़ाकर लोगों का जीना दूभर कर दिया। जिसके विरोध में जिला युवा कांग्रेस के तत्वाधान में मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री का पुतला दहन किया गया।

ख़ास बात तो ये रही कि पुलिस की मौजूदगी में स्थानीय अम्बेडकर चौक पर पुतले फूंके गये । जहां प्रशासन के द्वारा जारी पानी की तेज बौछारें भी पुतलों को जलने से रोक नहीं पाई।