Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

घर में एक पंखा नहीं! और बिजली बिल आ गया 90 हजार, बिजली ऑफिस के चक्कर काट रहा पीड़ित

रीवा: मध्यप्रदेश के रीवा जिले में बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां त्योंथर तहसील क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास में रहने वाले परिवार को करीब 90 हजार रुपए का बिल थमा दिया। जिसके बाद अब वह बिल सुधारने हेतु कार्यालय के चक्कर काट रहा है, और अधिकारी गोलमोल जवाब दे रहे हैं।

मध्यप्रदेश सरकार के द्वारा उपभोक्ताओं को कम दाम में बिजली दिए जाने को लेकर लगातार वादे और दावे किए जा रहे हैं। जिसको मूर्त रूप देने के लिए सरकार के द्वारा कई योजनाएं भी चलाई जा रही हैं। लेकिन रीवा में आज इसके उलट ही तस्वीर देखने को मिली। जहां प्रधानमंत्री आवास में निवासरत घरेलू उपभोक्ता को विद्युत विभाग कंपनी के द्वारा 89 हजार 758 रुपए का बिजली का बिल थमा दिया गया। जिसके बाद बिल देखकर उपभोक्ता के पसीने छूट गए।

दरअसल त्योंथर तहसील क्षेत्र अंतर्गत रहने वाले शकील साह के प्रधानमंत्री आवास स्थित निवास में विद्युत विभाग के द्वारा 89 हजार 758 का बिल भेजा गया। जिसके बाद बिल को सुधारने के लिए वह विद्युत कार्यालय के चक्कर काट रहा है। शकील शाह का कहना है कि विद्युत विभाग के द्वारा भेजी गई इस बिल की जानकारी जैसे ही लगी, तो वह सदमे में आ गया तथा अधिकारियों से मिलने के लिए कार्यालयों के चक्कर काटने शुरू कर दिया। लेकिन सरकारी दफ्तर में अधिकारियों के द्वारा भी गोलमोल जवाब ही दिया जा रहा है। हालांकि मीडिया से बात करते हुए अधिकारियों ने चोरी की बात की है, और बहुत ही जल्द दिल को सुधारने की बात कर रहे हैं।