Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

कांग्रेस के पूर्व मंत्री बोले- विजयवर्गीय एक दिन ममता के पैरों में गिरकर मांगेंगे माफी

इंदौर: मध्य प्रदेश में भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। हाल ही में विजयवर्गीय ने सज्जन सिंह वर्मा के लड़कियों की शादी की आयु को लेकर दिए बयान को लेकर वर्मा के संस्कारों पर सवाल उठाए थे, वहीं अब सज्जन सिंह वर्मा एक बार फिर से विजयवर्गीय पर गरजते नजर आए। उन्होंने कहा है कि पं. बंगाल में ममता बनर्जी की ही सरकार बनेगी और कैलाश विजयवर्गीय उनके पैरों पर गिरकर माफी मांगेंगे।

दरअसल, पूर्व मंत्री सज्जन सिंह अब कैलाश विजयवर्गीय के बीच तकरार बढ़ती नजर आ रही है। उन्होंने कहा है कि पं. बंगाल में ममता बनर्जी की सरकार बनेंगी, विजयवर्गीय ममता बनर्जी के पैरों में गिरकर माफी मांगेंगे और कहेंगे दीदी आप ही मुख्यमंत्री बनो। वहीं प्रदेश और देश में जगहों के नाम बदलने पर भी पलटवार करते हुए कहा कि बीजेपी को जगहों के नाम बदलने में नही अपने अच्छे कर्मो को बढ़ाने के बारे में सोचना चाहिए। वहीं कोरोना कोरोना वैक्सीन को लेकर कहा कि वे वैक्सीनेशन जरुर करवाएंगे। साथ ही विंध्याचल प्रदेश की मांग का सही ठहराते हुए कहा कि कांग्रेस इसका समर्थन करेगी। हम तो चाहते है कि राज्य छोटे होना चाहिए।

आपको बता दें कि वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने हाल ही में लड़कियों की शादी को लेकर एक विवादित बयान दिया था। उन्होंने सीएम शिवराज सिंह चौहान के बयान लड़कियों की शादी की उम्र 18 से बढ़ाकर 21 करने के विचार का विरोध करते हुए एक अनोखा तर्क देते हुए कहा था कि मेरा मानना है कि लड़कियां 15 साल की उम्र में ही प्रजनन के लायक हो जाती हैं और 18 साल में परिपक्व हो जाती हैं तो शादी की उम्र 21 साल क्यों हो? इस बयान को लेकर राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने मामले में संज्ञान में लेते हुए नोटिस जारी किया था और वर्मा को 2 दिन में स्पष्टीकरण देने को कहा था।

वहीं कैलाश विजयवर्गीय ने मीडिया के सामने वर्मा के इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि सज्जन सिंह वर्मा में संस्कारों की कमी है, माता-पिता ने उन्हें संस्कार नहीं दिए हैं, इसलिए वह कृपा के पात्र हैं।