आखिर क्यों और किसने की मेडिकल की छात्रा की हत्या, गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस #Ramgarh

डीआईजी अमोल वेणुकान्त होमकर खुद इस मामले की कर रहे है जांच, एसआईटी का किया गठन

पतरातू डैम में मिला था युवती का हाथ-पैर बंधा शव, क्षेत्र में सनसनी

युवती की पहचान गोड्डा निवासी हजारीबाग मेडिकल कॉलेज की छात्रा पूजा कुमारी के रूप में हुई है।

11 जनवरी से गायब थी गोंडा की रहने वाली पूजा, हज़ारीबाग़ हॉस्टल में रहकर फर्स्ट ईयर में पढ़ाई करती थी

हजारीबाग और रामगढ़ दोनो जिले के एसपी स्वयं मामले की कर रहे हैं जांच

हजारीबाग एसपी के साथ फॉरेंसिक व साइबर एक्सपर्ट की टीम ने कॉलेज में घंटों किया जांच

पतरातू डैम में हाथ पैर बंधा शव मिलने पर #रामगढ़ में विरोध प्रदर्शन, मुख्यमंत्री का जलाया पुतला

विरोध प्रदर्शन कर रही युवती ने कहा राज्य में महिलाएं सुरक्षित नहीं अपनी सुरक्षा के प्रति युवती ने चिंता जताई

रामगढ़/हज़ारीबाग़: रामगढ़ जिले के पतरातू थाना क्षेत्र अंतर्गत पतरातू डैम में मंगलवार की सुबह एक युवती का हाथ-पैर बंधा शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई।

जिंस और जैकेट पहनी करीब 30 वर्षीय युवती के कपड़े भी अस्त-व्यस्त हालत है। पुलिस के अनुसार प्रथम दृष्टया हत्या कर पैर-हाथ बांधकर डैम में फेंक देने की आशंका जताई जा रही है वही आशंका यह भी व्यक्त की जा रही है कि शव को कहीं से लाकर यहां फेंका गया है। पुलिस झाड़ी में मिले बैग को थाने ले गई है। घटनास्थल से मिले बैग में से प्लास्टिक की रस्सी, बेल्ट, खाने का सामान ,पानी की बोतल आदि बरामद किया गया है। पुलिस शव को कब्जे में कर जांच-पड़ताल कर रही है।

पतरातू डैम में हाथ-पैर बंधा युवती का शव मिलने के बाद हजारीबाग रेंज के डीआईजी अमोल वेणुकान्त होमकर, रामगढ़ एसपी प्रभात कुमार पतरातू पहुंच कर स्वयं मामले की जांच में जुट गए। डीआईजी अमोल वेणुकान्त होमकर खुद इस मामले की कर रहे है जांच उन्होंने एसआईटी का किया गठन किया है । डीआईजी श्री होमकर ने बताया कि युवती हजारीबाग के मेडिकल कॉलेज में पढ़ाई कर रही थी और वह दूसरे जिले की रहने वाली थी साथ ही उन्होंने कहा कि इस मामले पर रामगढ़ और हजारीबाग जिला पदाधिकारियों की एक ज्वाइन एसआईटी की टीम गठित की गई है जो इस मामले की गहन जांच कर रही है ।

मिली जानकारी के मुताबिक हजारीबाग मेडिकल की छात्रा पूजा कुमारी, लोहिया नगर मोहल्ला, गोड्डा निवासी सोमवार की शाम करीब चार बजे से हजारीबाग से लापता  थीं । इस मामले में कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ एस के सिंह ने बताया की पूजा अपने हॉस्टल से 11 जनवरी से सुबह 10:00 बजे करीब निकली थी। जो कि 4:00 बजे तक नहीं लौटी, तो हॉस्टल के वार्डन ने प्रिंसिपल को खबर किया लगभग 02 घंटे तक छात्रा की खोजबीन की गई, लेकिन नहीं मिलने के उपरांत पुलिस अधीक्षक हज़ारीबाग को इस संदर्भ में सूचना देते हुए स्थानीय थाना लोहसिंघना में गुमशुदगी का रिपोर्ट दर्ज कराया गया ।

वहीं इस मामले की गुत्थी को सुलझाने हजारीबाग एसपी कार्तिक एस मेडिकल कॉलेज पहुंचे, उनके साथ फॉरेंसिक एक्सपर्ट, साइबर एक्सपर्ट, साइबर सेल प्रभारी सहित कई पुलिस पदाधिकारी मौजूद थे, जिन लोगों के द्वारा कई घंटे तक गर्ल्स हॉस्टल में जांच की गई । इस संदर्भ में पुलिस अधीक्षक हजारीबाग ने कहा कि कॉलेज के छात्रा की मिसिंग कंप्लेंट थी। इस संदर्भ में जांच की जा रही है।

एक और जहां हाथ पैर बांधे युवती के शव मिलने के बाद जहां क्षेत्र में सनसनी का माहौल उत्पन्न हो गया है। लोगों के बीच तरह-तरह की चर्चाएं हो रही है । वही पुलिस प्रशासन इस मामले की गुत्थी सुलझाने में जूट गई है। खुद डीआईजी और दोनों जिले के एसपी एसआईटी का गठन कर इस मामले की पड़ताल में कर रहे है।

वही दूसरी ओर इस घटना के विरोध में सड़क पर लोग उतर कर सरकार के विरोध में प्रदर्शन करने लगे । हाथ पैर बंधे शव मिलने के बाद रामगढ़ जिले में उबाल देखने को मिला ।

विरोध कर रहे लोग सड़क पर उतर कर हेमंत सरकार का पुतला जलाते हुए सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी करते नजर आये। विरोध प्रदर्शन कर रही एक युवती ने कहा कि राज्य में महिला सुरक्षित नहीं उन्होंने अपनी सुरक्षा को लेकर चिंता जताई।

झारखंड के ओरमांझी में बीते कुछ दिनों पूर्व हुए निर्भया कांड के हत्यारों की अब तक गिरफ्तारी नहीं हो पाई थी और उसके विरोध कि आग अभी ठंडी भी नहीं हुई थी कि फिर रामगढ़ जिले के पतरातू डैम में एक युवती का हाथ पैर बंधे शव मिलने से लोगों में जहां उबाल है वही सरकार और प्रशासन के कार्यशैली पर सवाल उठा रही है ।

Whats App