नाबालिग की रेप के बाद हत्या, पुलिस कार्रवाई से नाखुश परिजनों ने अंतिम संस्कार से पहले किया हंगामा

खंडवा: मध्यप्रदेश के खण्डवा जिले में सोमवार को एक नाबालिग की रेप के बाद हुई हत्या के मामले में पुलिस कार्रवाई से ग्रामीणों में बहुत रोष है। पीड़िता के परिजनों और ग्रामीणों ने प्रशासन के सामने शव रखकर रोष प्रदर्शन किया। परिजनों ने पीड़िता का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया। परिजनों की मांग है कि इस घटना में शामिल सभी लोगों को गिरफ्तार किया जाए। ग्रामीणों के हंगामे के बाद तनाव बढ़ता देख विधायक भी गांव पंहुचे और कार्रवाई का उचित आश्वाशन दिया।

मामला खंडवा जिले के जामन्या गांव का है जहां 14 साल की बच्ची के साथ रेप की घटना को अंजाम दिया गया। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी और उसकी पत्नी को गिरफ्तार किया है। लेकिन पीड़ित परिवार इस कार्रवाई से खुश नहीं है और उन्होंने पीड़िता का शव रखकर रोष प्रदर्शन किया। उनकी मांग थी कि घटना में शामिल सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए। ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया कि जिला अस्पताल से शव देने के बदले उनसे 3000 रुपये लिए गये तथा शव वाहिनी के लिए 2000 रुपये की मांग की गई। प्रत्यक्षदर्शी ने भी पूरा घटनाक्रम पुलिस को बताकर आरोपी की पत्नी की मिलीभगत का आरोप लगाया।

वहीं हंगामा होने पर विधायक राम दांगोरे परिजनों से मिलने पहुंचे। ग्रामीणों ने विधायक के समक्ष भी मांग रखी कि मामले को फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाया जाकर उसे फांसी दी जाए। विधायक राम दांगोरे ने कहा कि घटना की जानकारी मुख्यमंत्री जी को दी है और इसमे किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि एसपी को पत्र लिखकर लापरवाही बरतने पर इस क्षेत्र की धनगांव थाना प्रभारी को भी हटाने के निर्देश दिए हैं। पुलिस ने रेप के आरोपी दिलावरसिंह की पत्नी को भी आरोपी बानाकर गिरफ्तार कर लिया है।

Whats App