Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

अवैध रूप से तंबाकू पदार्थ बेचने वाले दुकानदारों पर होगी सख्त कार्रवाई #Ramgarh

विशेष अभियान के तहत सभी प्रखंडों में चलाया गया तंबाकू जांच अभियान

जिला प्रशासन रामगढ़ द्वारा 11 जनवरी से लेकर 25 जनवरी तक विशेष जांच अभियान चलाया जा रहा है

रामगढ़: अवैध रूप से तंबाकू पदार्थ बेचने वाले दुकानदारों के खिलाफ जिला प्रशासन रामगढ़ द्वारा 11 जनवरी से लेकर 25 जनवरी तक विशेष जांच अभियान चलाया जा रहा है। इस संबंध में अनुमंडल पदाधिकारी कीर्ति श्री द्वारा सभी अधिकारियों को औचक निरीक्षण कर वैसे दुकानदार जो अवैध रूप से तंबाकू पदार्थों की बिक्री कर रहे हैं के विरुद्ध कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

इसी क्रम में सोमवार को जिले के सभी प्रखंडों में प्रखंड विकास पदाधिकारियों, अंचल अधिकारियों, थाना प्रभारियों आदि की टीम के द्वारा सघन रूप से जांच अभियान चलाया गया। इस दौरान अलग अलग दुकानों से कुल 3200 रुपए की राशि को फाइन के रूप में अलग-अलग दुकानदारों से वसूलते हुए कड़ी चेतावनी दी गई।

गौरतलब हो कि जांच सैम्पलों में मैग्निशियम कार्बोनेट पाए जाने के कारण पान पराग पान मसाला, शिखर पान मसाला, रजनीगंधा पान मसाला, दिलरुबा पान मसाला, राज निवास पान मसाला, मुसाफिर पान मसाला, मधु पान मसाला, विमल पान मसाला, बहार पान मसाला, सेहरत ब्रांड पान मसाला, पान पराग प्रीमियम पान मसाला के भंडारण, विनिर्माण, बिक्री वितरण पर 1 वर्ष के लिए पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया गया है। इसके साथ ही दिनांक 10 जून 2020 के बाद से उपरोक्त उत्पादों के भंडारण एवं परिवहन को भी पूर्ण रूप से अवैध माना गया है।