Logo
ब्रेकिंग
Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l

सालों बाद PAK की जेल से रिहा हुआ MP का राजू, थर्ड डिग्री टार्चर के कारण खो बैठा अपनी आवाज

शहडोल: कैदियों की अदला-बदली को लेकर हुए समझौते के बाद पाकिस्तान की जेल से मध्य प्रदेश के शहडोल जिले का रहने वाला 30 वर्षीय राजू  को रिहा कर दिया गया है। अब उसे अंतरार्ष्ट्रीय अटारी सीमा से भारत अपने वतन लाया गया है। 17 साल पहले अपने काम की तलाश में सूरत व  मुंबई गया राजू  गलती से पाकिस्तान चला गया था, जिसके बाद पाकिस्तान की पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इस दौरान उसे कई तरह की यातनाएं दी गई, जिससे उसकी मानसिक हालात ठीक नहीं है। भारत सरकार की पहल पर सोमवार को रिहा कर दिया गया है जिसे अब शहडोल कलेक्टर के निर्देशन पर पुलिस टीम और परिजन अमृतसर से शहडोल लाया जाएगा।

शहडोल जिले के गोहपारु  थाना क्षेत्र के बरेली गांव का रहने वाला 30 वर्षीय राजू गुप्ता 17 साल पूर्व रोजगार की तलाश में सूरत और मुम्बई की खाक छान रहा था, जो अचानक पाकिस्तान चला गया, जहां उसे जेल भेज दिया गया, जिसका कुछ समय तक तो पता नहीं चला जिसके कुछ वर्षों बाद राजू के परिजनों कों पता लगा की राजू पाकिस्तान की जेल बंद है। परिजनों का राजू को अपने वतन वापस बुलाने के लिए 6 माह पहले शहडोल एसपी से मदद की गुहार लगाते हुए वपास बुलाने की मांग की थी, जिसके बाद उसे भारत सरकार ने
सोमवार को अपने वतन बुला लिया, जिसकी जानकारी शहडोल कलेक्टर को दी गई। जिसे अब शहडोल कलेक्टर के निर्देशन पर पुलिस टीम और परिजन अमृतसर से शहडोल लाया जाएगा ।

राजू के वापस अपने वतन आने के इंतजार उसकी मां की आंखे पथरा गई, जब से राजू बाहर गया था , तब से उसकी मां उसके आने का बेसबरी से इंतजार कर रही थी। अब जब उनके परिजनों को पता लगा कि राजू पाकिस्तान से अपने वतन आ गया है और जल्द ही अपने घर वापस आ जाएगा, उनके खुशी का ठिकाना नहीं है।

जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान जेल में राजू को थर्ड डिग्री का टॉर्चर दिया जाता था, कई तरह के जतन झेले, उसके साथ पाकिस्तानी पुलिस लगातार मारपीट करती रही,  जिसकी वजह से उसकी मानसिक हालत भी बिगड़ चुकी है। फिलहाल राजू कुछ भी बताने में असमर्थ है, क्योंकि उसके साथ हुए टॉर्चर ने उसकी आवाज तक छीन ली है। लगभग 15 सालों से पाकिस्तान की जेल में बंद था राजू के मुताबक उसे पाकिस्तान गए 10-15 साल हो गए थे और वह तभी से वहां की जेल में बंद था।

आज उसे पाकिस्तान की तरफ से रिहा गया है। उसे अटारी-बाघा बॉर्डर भारतीय रेंजरों के हवाले किया गया, राजू से पूछा गया कि वह पाकिस्तान कैसे पहुंचा, तो इस सवाल के जवाब में कभी वह कहता कि ट्रेन से गया, तो कभी पैदल ही पाकिस्तान जाने की बात कह रहा है, अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि राजू किस अपराध में पाकिस्तान की जेल में 13 वर्ष तक बंद रहा।