चितरपुर के जरीना खातून संग्रहालय सह शोध केंद्र में प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन,

जूट से संबंधित प्रोडक्ट्स बनाने की दी गई जानकारी

yamaha

रामगढ: चितरपुर स्थित जरीना खातून संग्रहालय सह शोध केंद्र में रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया।

जिसमें हुनर कॉटेज द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रम  टेक्नो ट्रेडिशनल स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम द्वारा जूट से संबंधित प्रोडक्ट्स बनाने की विस्तृत जानकारी दी गई। ज्ञात हो कि इस कार्यक्रम द्वारा पारंपरिक वस्तुओं को आधुनिक टेक्नोलॉजी से जोड़ा जा रहा है और आधुनिक जरूरतों से संबंधित चीजों को बनाया जा रहा है। ताकि हमारी परम्परा कभी खत्म न हो।

परियोजना के कॉर्डिनेटर कम ट्रेनर गुलप्सा खातून ने बताया कि यहां जूट द्वारा मोबाइल होल्डर, कोस्टर, टूथपिक होल्डर, पेन होल्डर, पेंटिंग, मिरर, बैग आदि बनाए जाते हैं। निदेशक फैयाज अहमद ने कहा कि आज हुनर कॉटेज में एक महिला 2000 रुपए प्रतिमाह कमा रही है। संग्रहालय में आधारभूत संरचना की बहुत कमी है। शौचालय की कमी और संसाधन की कमी हमें और दूसरे महिलाओं को रोजगार से जोड़ने में बाधक बन रही है। कार्यक्रम को सफल बनाने में वसीम हसन, सय्यद, मो. सनाउल्लाह, कमर सिद्दीक, सफकत उल्लाह, अजमेरी खातून, जोया खातून, आफरीन जब्बार, मोबस्सिर आदि का सहयोग रहा।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.