Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

ऑल इंडिया एसटी एसी ओबीसी कॉउंसिल का प्रदेश स्तरीय बैठक रांची में आयोजित

रामगढ़ ज़िला सीसीएल नईसराय एसटी एसी ओबीसी कॉउंसिल के अध्यक्ष प्रदेश स्तरीय बैठक में हुए शामिल।

ऑल इंडिया एसटी एसी ओबीसी कॉउंसिल का प्रदेश स्तरीय बैठक सीसीएल के मुख्यालय दरभंगा हाउस रांची में आयोजित की गई . जिसमें मुख्य रूप से राज्य के 24 जिलों से ज़िला प्रतिनिधि के रूप में विभिन्न विभाग, रेलवे, सीसीएल(सिस्टा) बिरसा एग्रीकल्चर विभाग, पुलिस एसोसिएशन के अधिकारी व कर्मचारीगण बैठक में मौजूद थे।

बैठक में मुख्य बिंदु देश के संविधान में मौलिक अधिकार व आरक्षण को लेकर चर्चा की गई। सरकारी नौकरी में नियुक्ति व पदनोंति व केंद्र सरकार एसी, एसटी, ओबीसी के आरक्षण को लेकर जिस प्रकार एजेंडा बनाकर नया नया रूपरेखा ला रही है उस पर आरक्षण को समाप्त करने में लगी हुई हैं।बैठक में उपस्थित अधिकारी व कर्मचारियों ने बारी बारी से प्रतिनिधि स्वरूप उक्त बिंदुओ पर चर्चा करते दलित शोषित वर्ग के लोगो को एकजुट व जागरुक होकर अपने अधिकारों की लड़ाई लड़नी होगी।

इस प्रदेश स्तरीय बैठक में रामगढ़ ज़िला सीसीएल नईसराय एसटी एसी ओबीसी कॉउंसिल के अध्यक्ष तेजू रविदास बैठक में हुए शामिल।उन्होंने कहा कि आज जिस प्रकार पूरे देश में आरक्षण को खत्म करने में लगे हुए हैं पर ऐसा होना असंभव है क्योंकि पूरे देश में कार्यपालिका, न्यायपालिका, विधायिका सभी संविधान के अनुरूप अग्रसारित की जा रही हैं। आगर संविधान में आरक्षण को लेकर किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ होती है तो सड़क से लेकर सदन तक आंदोलन किया जाएगा।