Logo
ब्रेकिंग
रामगढ़ की बेटी महिमा को पत्रकारिता में अच्छा प्रदर्शन के लिए किया गया सम्मानित Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l

हरियाणा के CM से बोले शिवराज सिंह- मां-बाप के सामने दरिंदगी की शिकार हुई बच्ची को न्याय दीजिए

भोपाल: मध्य प्रदेश के दमोह जिले की 5 साल की बच्ची के साथ हरियाणा के झज्जर में रेप के बाद हत्या कर दी गई। बच्ची का परिवार रोजगार के सिलसिले में दमोह से झज्जर गया था। बच्ची के साथ अमानवीयता को लेकर लोगों में आक्रोश है। इसे मामले को गंभीरता से लेते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने हरियाणा के सीएम मनोहरलाल खट्टर से फोन पर बात की और दोषियों के खिलाफ कड़ी सजा की मांग की। उन्होंने मामले की जांच के लिए एमपी पुलिस को हरियाणा जाने के आदेश भी दिए हैं। सीएम सख्ती दिखाते हुए पीड़ित पक्ष को न्याय देने की बात कही। वहीं, बच्ची माता-पिता को तत्काल 4 लाख रुपए की राशि भी दी।

PunjabKesari

जानें पूरा मामला
जानकारी के मुताबिक, दमोह जिले का एक गरीब परिवार रोजगार के सिलसिले में झज्जर के छावनी मोहल्ले गया था। बच्ची के पिता राजमिस्त्री का काम करता है। 20 दिसंबर को जन्मदिन की रात उनकी पांच वर्षीय प्रवासी मजदूर की बेटी का पड़ोसी ने अपहरण कर उसके साथ रेप कर हत्या कर दी। बच्ची के लापता होने की खबर मिलते ही परिजन पड़ोसी आरोपी के घर पीछे-पीछे पहुंच गए थे, लेकिन उसने दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। काफी देर बाद भी जब वह दरवाजा नहीं खोला तो परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। लेकिन जबतक पुलिस पहुंची तब तक बच्ची की मौत हो चुकी थी। पुलिस ने आरोपी युवक को उसी घर से गिरफ्तार कर लिया था।

वहीं परिजनों का आरोप है कि अगर पुलिस समय से पहुंच जाती तो बच्ची की जान बच जाती। परिजनों ने सरकार से पुलिस के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की है। बच्ची के साथ अमानवीयता को लेकर स्थानीय लोगों में काफी गुस्सा है। मासूम को न्याय मिल सके, इसलिए लोगों ने पूरे शहर में कैंडल मार्च निकाला और आरोपी को फांसी देने की मांग की।