Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

Ramgarh बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत जिला प्रशासन रामगढ़ ने शुरू की नई पहल

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के उद्देश्यों का किया जाए व्यापक प्रचार प्रसार : उपायुक्त

रामगढ़: बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत जिला प्रशासन रामगढ़ द्वारा नई पहल शुरू की गई है। इसके तहत प्रत्येक माह कि पहली तारीख को सदर अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आदि में जन्मी बच्चियों के उत्सव के रूप में मनाया जाना है।
इसी कार्यक्रम का शुभारंभ सदर अस्पताल रामगढ़ से उपायुक्त श्री संदीप सिंह ने किया। कार्यक्रम की शुरुआत उपायुक्त, सिविल सर्जन, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सहित अन्य ने दीप प्रज्वलित कर की।

रामगढ़ : इस दौरान मीडिया प्रतिनिधियों से बात करते हुए उपायुक्त श्री संदीप सिंह ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा शुरू किए गए इस कार्यक्रम का उद्देश्य नवजात बच्चियों की माताओं को पोषण, सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं आदि के प्रति जागरूक करना है। इसके साथ ही इस कार्यक्रम का उद्देश्य बच्चों की अपेक्षा में बच्चियों के लिंगानुपात में कमी को दूर करना भी है। जिला प्रशासन द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है जिसके माध्यम से लोगों को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के संदेशों के प्रति जागरूक किया जाना है।

कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त ने सांकेतिक रूप से कुल 11 माताओं के बीच उपहार के रूप में पौधा, बेबी किट सहित अन्य सामग्रियों का वितरण किया।

इस दौरान सिविल सर्जन रामगढ़, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, चिकित्सा पदाधिकारियों, बाल विकास परियोजना पदाधिकारियों, चिकित्सकों सहित अन्य उपस्थित थे।