Logo
ब्रेकिंग
रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l असामाजिक तत्वों ने देवी देवताओं की मूर्ति को किया क्षतिग्रस्त, गुस्साए ग्रामीणों ने किया सड़क जाम l

हेमंत सोरेन की सरकार हिंदू विरोधी और हिटलर शाही सरकार है : आजसू

मुख्यमंत्री के द्वारा छठ महापर्व के मद्देनजर जारी गाइडलाइन पूरी तरह से हिंदू धर्म के विरोध में है : आजसू

रामगढ़ : झारखंड के हेमंत सोरेन की सरकार हिंदू विरोधी और हिटलर शाही सरकार है यह कहना है रामगढ़ जिले के आजसू पार्टी का ।
पार्टी के पदाधिकारियों का कहना है कि मुख्यमंत्री के द्वारा छठ महापर्व के मद्देनजर जारी गाइडलाइन पूरी तरह से हिंदू धर्म के विरोध में है और ये सरकार हिंदू धर्म के साथ खिलवाड़ कर रही हैं। जिसका हम लोग विरोध कर रहे है ।


गौरतलब है कि छठ महापर्व को लेकर झारखंड सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के विरोध में विभिन्न राजनीतिक और सामाजिक संगठन के द्वारा विरोध किया जा रहा है और रामगढ़ में इसी विरोध की कड़ी में आजसू पार्टी द्वारा रामगढ़ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस जारी कर झारखंड सरकार को हिंदू विरोधी बताते हुए हिंदू आस्था के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाया है । प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं आजसू पार्टी के पदाधिकारियों का कहना है कि मुख्यमंत्री पूरी तरह से हिंदू धर्म के विरोध में कार्य कर रही हैं और हिंदू धर्म के साथ खिलवाड़ कर रही । वही आजसू पार्टी के छात्र संगठन ने अपना कड़ा विरोध व्यक्त किया, उनका कहना है कि झारखंड सरकार हिंदू आस्था के साथ खिलवाड़ करने का कार्य कर रही है। जिसका प्रमान साफ है कि जहा एक ओर जहा बीते कुछ दिनों पूर्व झारखंड के दोनों उपचुनाव में चाहे मतदान का दिन हो या चुनावी सभा उस दिन भी बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा हुए थे, तब उनको कोरोना के गाइडलाइंस का ख्याल नहीं आया और जब आज हिंदू आस्था के महापर्व छठ की बात हो रही है तो हमारे झारखंड सरकार के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को कोरोना की गाइडलाइन याद आ रही है । इस तरह के दोहरे चरित्र से साफ तौर पर सरकार को हिंदू विरोधी कहा जा सकता है ।


आगे आजसू नेताओ ने सरकार को उग्र आंदोलन की चेतावनी देते हुए जल्द छठ पूजा के मद्देनजर जारी गाइडलाइंस में संशोधन करने की चेतावनी दी है और कहां कि अगर इस आदेश में संशोधन नहीं किया गया। तो आजसू पार्टी सड़क से लेकर सदन तक आंदोलन करने को मजबूर हो जाएगी और उसी के तहत कल आजसू पार्टी के द्वारा अपना विरोध व्यक्त करते हुए झारखंड सरकार को हिटलर शाही का खिताब देते हुए उनका पुतला दहन करने का निर्णय लिया गया है । आप जरा सुने आजसू नेताओं के उग्र तेवर को, क्या कहते हैं आजसू के नेता