Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

Ramgarh डीडीसी ने मुख्यमंत्री के पैतृक गांव नेमरा में किया दीदी बाड़ी योजना का शुभारंभ

ग्रामीणों के साथ उनकी समस्याओं के संबंध में की चर्चा, दिए आवश्यक दिशा निर्देश रामगढ़ के ऊपर बरगा पंचायत भवन में प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं मुखिया के साथ की बैठक

रामगढ़ : उप विकास आयुक्त श्री नागेंद्र कुमार सिन्हा ने रामगढ़ के गोला में स्थित माननीय मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन के पैतृक गांव नेमरा से दीदी बाड़ी योजना का विधिवत शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने विधिवत रूप से नारियल फोड़कर एवं फीता काटकर दीदी बाड़ी योजना की शुरुआत की, उप विकास आयुक्त ने इस अवसर पर बाड़ी में विभिन्न प्रकार के पौधों के बीजों को रोपने के पश्चात पपीता का पौधा भी लगाया।

मौके पर उन्होंने दीदी बाड़ी योजना के लाभुकों से योजना एवं इससे मिलने वाले लाभ के संबंध में विस्तार से चर्चा करते हुए कई महत्वपूर्ण जानकारियां उन्हें दी। इस दौरान उप विकास आयुक्त ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री के पैतृक गांव नेमरा से आज दीदी बाड़ी योजना का विधिवत शुभारंभ किया गया है। जिसके बाद जिले के सभी प्रखंडों में इस योजना का क्रियान्वयन किया जाएगा।

योजना के तहत मौजूदा वित्तीय वर्ष में लगभग 17000 योजनाओं का चयन किया जाएगा, जिसमें प्रतिमाह लगभग 3400 योजनाएं ली जाएंगी। इस योजना का सबसे बड़ा फायदा यही होगा कि कम जमीन में ही लाभुक विभिन्न प्रकार की सब्जियां उगा सकेंगी, जिससे ना सिर्फ उनके परिवार का अच्छी तरह से पोषण हो पाएगा बल्कि अगर वे चाहें तो इससे आर्थिक लाभ भी प्राप्त कर सकती हैं। यह योजना लाभुकों के लिए स्वास्थ्यवर्धक तो है ही साथ ही साथ उन्हें आर्थिक रूप से सुदृढ़ करने में भी मदद करेगी। जिला प्रशासन, जेएसएलपीएस, सेल्फ हेल्प ग्रुप की महिलाओं आदि सभी का यह प्रयास है कि इस योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा लाभुकों तक पहुंचे।दौरे के दौरान उप विकास आयुक्त ने ग्रामीणों से उनसे संबंधित अनेक प्रकार की समस्याएं के संबंध में विस्तार से जानकारी ली एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी गोला अजय रजक को सभी ग्रामीणों की समस्याओं का जल्द से जल्द निष्पादन करने का निर्देश दिया। उप विकास आयुक्त ने ऊपर बरगा पंचायत अंतर्गत निर्माणाधीन नहर का भी निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने नहर के संबंध में हो रहे निर्माण कार्य की जानकारी ली, इसके साथ ही उन्होंने योजना में कार्यरत मजदूरों से भी कई विषयों पर चर्चा की।

दीदी बाड़ी योजना के शुभारंभ के बाद उप विकास आयुक्त ने ऊपर बरगा पंचायत के पंचायत भवन में प्रखंड विकास पदाधिकारी, गोला एवं ऊपर बरगा पंचायत के मुखिया के साथ बैठक कर वहां हो रहे विकास कार्यों तथा ग्रामीणों को सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं का लाभ देने के संबंध में चर्चा करते हुए कई महत्त्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए। लिहाजा मनरेगा एवं जेएसएलपीएस के द्वारा कन्वर्जंस के तहत दीदी बाड़ी योजना का क्रियान्वयन तीव्र गति से किया जा रहा है। दीदी बाड़ी योजना महिलाओं और बच्चों में कुपोषण की कमी को दूर करने के लिए शुरू की गई एक योजना है। योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र के परिवार को उनके घर के पास उनकी बाड़ी जो 1 से 5 डिसमिल भूमि तक हो सकती है वहां विभिन्न प्रकार की गतिविधियां संचालित की जा रही है। इस योजना के माध्यम से महिलाओं को 1 वर्ष में 100 मानव दिवस का भुगतान किए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस दौरान डीपीएम जेएसएलपीएस श्री गौरव जयसवाल,ऊपर बरगा पंचायत के मुखिया,सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी रामगढ़ शशांक शेखर मिश्रा, बीपीओ मनरेगा सहित अन्य उपस्थित थे।