Rajrappa नवरात्र के पूर्व प्रसिद्ध सिद्ध पीठ मां छिन्मस्तिका मंदिर खोलने की मांग बढ़ी

हाई कोर्ट ने मां छिन्मस्तिका मंदिर खोलने पर सरकार को निर्णय लेने का निर्देश दिया है सरकार का भी सपना है कि, विश्व के मानचित्र में रजरप्पा मंदिर एक पर्यटन स्थल के रूप में स्थापित हो । रजरप्पा मंदिर बंद रहने से कई लोग हुए बेरोजगार, विकास कार्य भी हुआ शिथिल

रजरप्पा : झारखंड हाई कोर्ट ने रजरप्पा मां छिन्मस्तिका मंदिर आम लोगों के लिए खोलने पर सरकार को निर्णय लेने का निर्देश दिया है, चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद की अदालत ने कल एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि सरकार चाहे तो देवघर मंदिर की तर्ज पर खोल सकती है । हाईकोर्ट के आदेश आते ही मंदिर खोलने की मांग बढ़ी ।

रजरप्पा मंदिर खोलने को लेकर  रामगढ के शिक्षाविद डॉक्टर संजय सिंह ने कहा कि सरकार ने बहुत से संस्थानों को खोल दिया है, जैसे सैलून, रेस्टूरेंट हो या भीड़भाड़ वाला इलाका हो । रजरप्पा मंदिर धर्म आस्था, श्रद्धा का केंद्र है, रजरप्पा मंदिर प्रसिद्ध सिद्ध पीठ है । माननीय न्यायलय नवरात्र के पूर्व रजरप्पा मंदिर खोलने को निर्देश दिया है ।रजरप्पा मंदिर को लेकर वही दूसरी ओर सरकार का भी सपना है कि, विश्व के मानचित्र में रजरप्पा मंदिर एक पर्यटन स्थल के रूप में स्थापित हो, इसको लेकर पूर्व व वर्तमान सरकार ने कई विकास योजनाओं को धरातल पर उतारा है। जिसमें कई योजनाएं पूर्ण भी हो चुकी है। परन्तु कुछ अभी भी अधर में लटकी नज़र आ रही है। जिसमें चिल्ड्रेन पार्क,भव्य मुख्य द्वार व मोटर स्टैंड प्रमुख योजनाएं हैं। इस संबंध में रजरप्पा मंदिर न्यास समिति के सचिव शुभाशीष पंडा ने कहा कि कोरोना महामारी के चलते विकास योजनाएं यहां शिथिल पड़ी हुई है।

जल्द ही रजरप्पा में विकास योजनाएं धरातल पर दिखेंगीं : डीसी

रजरप्पा मंदिर के विकास के मामले में रामगढ़ उपायुक्त संदीप सिंह ने कहा कि कुछ योजनाएं पूर्ण हो चुकी हैं। कुछ का डीपीआर तैयार है। जल्द ही रजरप्पा में विकास योजनाएं धरातल पर दिखेंगीं।
आम श्रद्धालुओ को अब इस बात का  इंतजार है कि राज्य सरकार जल्द रजरप्पा मंदिर नवरात्र के पहले  खोलने का आदेश दे दे , ताकि नवरात्र में रजरप्पा मंदिर में माता रानी की दर्शन प्राप्त हो सके ।

Whats App