Chitarpur लारी पनशाला से 11 हजार वोल्ट तार ले जाने का ग्रामीणों ने किया विरोध

एसडीओ के प्रयास से पोल लगाने हेतु गड्ढा खुदाई का कार्य हुआ संपन्न

yamaha

Chitarpur : चितरपुर प्रखंड के छोटकीलारी स्थित इंजीनियरिंग कॉलेज के पास बिजली केबल का ज्वाइंटर खराब होने के कारण पिछले 5 दिनों से सुकरीगढ़ा व लारी क्षेत्र में बिजली आपूर्ति पूर्ण रूप से बाधित है। जिस कारण इन दोनों गांव के लगभग 700 घरों में बिजली नहीं रहने से ग्रामीण काफी परेशान है।

इसे लेकर ग्रामीणों द्वारा लारी पनशाला के पास से 11 हजार वोल्ट का तार ले जाने के लिए पोल लगाने को लेकर गड्ढा खोदा जा रहा था। लेकिन पनशाला के ग्रामीण 11 हजार वोल्ट का तार ले जाने का विरोध कर रहे थे। इसे लेकर सोमवार को विद्युत विभाग के एसडीओ प्रभाकर कुमार व चितरपुर बीडीओ सह सीओ उदय कुमार ने वहां पहुंचकर ग्रामीणों को काफी समझाया। बावजूद इसके पनशाला के ग्रामीण पोल लगाने हेतु गड्ढा खोदे जाने का विरोध करते रहे। इसके बाद एसडीओ ने कड़ा रुख करते हुए रजरप्पा पुलिस की मौजूदगी में पनशाला के आरइओ सड़क के बगल में पोल लगाने हेतु ड्रिल करवाने का कार्य शुरू कराया और पनशाला से तेली पोखर तक पोल लगाने हेतु लगभग 16 जगह ड्रिल कर गड्ढा किया गया। एसडीओ प्रभाकर कुमार ने बताया कि शुरुआती दौर में यहां के कुछ ग्रामीणों द्वारा विरोध किया जा रहा था। बाद में सभी के सहयोग से दोनों पक्ष के ग्रामीणों का ख्याल रखते हुए पोल लगाने हेतु गड्ढा करने का कार्य किया गया। ताकि जल्द से जल्द प्रभावित लोगों के घरों में विद्युत आपूर्ति बहाल हो सके। इधर, एसडीओ के प्रयास से 11 हजार तार ले जाने हेतु पोल लगाने की प्रक्रिया शुरू होते ही सुकरीगढ़ा और लारी के ग्रामीणों में हर्ष का माहौल देखा गया। इस अवसर पर अंचल निरीक्षक शशिशेखर सिंह, विद्युत विभाग के कनीय अभियंता राजेंद्र उरांव, रजरप्पा थाना के सहायक अवर निरीक्षक अखिलेश कुमार सिंह सहित कई ग्रामीण उपस्थित थे।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.