Ramgarh जिला में यूरिया खाद की काला बाज़ारी से किसान है परेशान

सभी किसानों को उचित मूल्य पर दिया जाए यूरिया: अमरेश

yamaha

रामगढ़ जिले के ग्रामीण क्षेत्र में यूरिया खाद की किल्लत और बड़े स्तर पर चल रही कालाबाजारी को लेकर किसान परेशान हैं इसको लेकर अब राजनीति शुरू हो चुकी है, चितरपुर प्रखंड के समाजसेवी अमरेश महत्व ने कहा कि अगर किसानों को एक-दो दिन के अंदर राज्य सरकार, विधायक, जिला प्रशासन एवं दुकानदार द्वारा अगर उचित मूल्य पर यूरिया खाद उपलब्ध नही कराया गया तो किसान मजबूर होकर रोड पर उतरेंगे और किसानों द्वारा जोरदार आंदोलन करने का कार्य करेगा।

विधायक और स्थानीय प्रशासन दे ध्यान

इसकी जिम्मेवारी स्थानीय विधायक, जिला प्रशासन और राज्य सरकार होगी। क्योंकि पूरे देश में लॉकडाउन लगी हुई है। जिसके चलते किसानों को सही तरीके से खेती तो कर लेती है। लेकिन समय और बाजार नहीं रहने के कारण सही मूल्य भी प्राप्त नहीं हो पाता है और अभी धान की खेती हो रही है। जिसमें यूरिया की अति आवश्यकता है ।

अमरेश महतो ने कहा कि ऐसे स्थिति में कोरोना के महामारी में किसान करे तो क्या? राज्य सरकार, विधायक, जिला प्रशासन को इस विषय पर मंथन कर जल्द से जल्द यूरिया उपलब्ध करें। रामगढ़ जिला में दुकानदारों के द्वारा लगभग एक महीना होने चला जिसमें यूरिया खाद महंगे रेट में बेचा जा रहा था। लेकिन लगभग एक महीना होने चला अभी तक किसानों को यूरिया खाद उपलब्ध नहीं हो पा रही है।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.