रामगढ़ पुलिस की अनोखा पहल क्षेत्रीय भाषा में ग्रामीणों को कोरोना के प्रति कर रहे हैं जागरूक

मुख्यमंत्री के पैतृक गांव में सामुदायिक पुलिसिंग के तहत कोरोना जागरूकता अभियान चलाया

yamaha

रामगढ़ : राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के पैतृक गांव में आज सामुदायिक पुलिसिंग के तहत कोरोना जागरूकता अभियान चलाया गया, इसका उद्देश्य जिले के अंतिम व्यक्ति को वैश्विक महामारी के संक्रमण के प्रति जागरूक करना है ताकि इस बीमारी से मुक्ति मिल सके।

रामगढ़ जिले के गोला प्रखंड स्थित मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन के पैतृक गांव नेमरा एवं उनके पंचायत ऊपर बरगा में आज सामुदायिक पुलिसिंग के तहत ग्रामीणों को वैश्विक महामारी के प्रति जागरूक किया । इस सामुदायिक पुलिसिंग की सबसे अहम बात यह थीं कि क्षेत्र के ग्रामीणों को उनकी अपनी संथाली भाषा में कोरोना संक्रमण के प्रति समझाया गया।

इस मौके पर डीएसपी प्रकाश सोए खुद उपस्थित होकर ग्रामीणों के बीच मुफ्त में मास्क सैनिटाइजर एवं हाथ धोने के साबुन इत्यादि का वितरण किया। पूरे राज्य सहित रामगढ़ जिले में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को दूर करने के लिए कई तरह के उपाय किए जा रहे हैं जिसमें सामुदायिक पुलिसिंग भी शामिल है। इस मौके पर डीएसपी ने बताया कि यह सामुदायिक पुलिसिंग का यह एक हिस्सा है । जिसके तहत सुदूरवर्ती क्षेत्र के अंतिम व्यक्ति को भी वैश्विक महामारी के प्रति जागरूक करना है ताकि इस संक्रमण को कम किया जा सके, इस अभियान में सबसे खास बात यह थी कि नेमरा के ग्रामीणों को उनकी अपनी भाषा संथाली में समझाया गया ।

इस मौके पर एक ग्रामीण ने बताया कि आज हमें पुलिस के द्वारा कोरोना महामारी से बचने के लिए संथाली भाषा में समझाया गया साथ में मास्क सैनिटाइजर भी दिया गया और यह भी बताया गया कि सड़क पर बिना मास्क के नहीं जाना है ।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.