Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

Ramgarh नगर परिषद द्वारा दो दिवसीय ऑनलाइन प्रशिक्षण सत्र का हुआ आयोजन

वैश्विक महामारी के दौरान अकुशल मजदूरों को विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं द्वारा रोजगार से जोड़ना है

रामगढ़: नगर परिषद द्वारा मुख्यमंत्री श्रमिक योजना को लागू करने एवं इसे धरातल पर शुरू करने के संबंध में दो दिवसीय ऑनलाइन प्रशिक्षण सत्र का आज समापन हुआ। प्रशिक्षण के पहले दिन जिले में नगर विकास विभाग द्वारा नगर निकाय को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण में मुख्य रूप से नगर परिषद के नगर मिशन प्रबंधक, असिस्टेंट इंजीनियर, जे०ई, सामुदायिक संगठनकर्ता एवं सामुदायिक संसाधन सेविकाओं ने भाग लिया।

प्रशिक्षण में मुख्य रूप से बताया गया कि मुख्यमंत्री श्रमिक योजना (शहरी) के तहत सर्वे कर जॉब कार्ड बनाया जाना है। यह प्रयास अकुशल श्रमिकों को काफी लाभ पहुंचाएगा। इसका मुख्य उद्देश्य निकाय स्तर पर जॉब कार्ड निर्गत कर वर्ष में 100 दिनों का कार्य उपलब्ध कराना है। एक वर्ष के अंदर अकुशल मजदूरों को रोजगार नहीं मिलने पर उनको बेरोजगारी भत्ता देने का भी प्रावधान है। इस योजना के शुरू होने से वैश्विक महामारी के दौरान दूसरे प्रदेशों में झारखंड के बेरोजगार हुए अकुशल श्रमिक लाभान्वित होंगे। प्रशिक्षण सत्र में मुख्य रूप से नगर परिषद रामगढ़ के कार्यपालक पदाधिकारी श्री सुरेश यादव, सहायक अभियंता श्री लाल बिहारी यादव, कनिय अभियंता श्री मुकेश कुमार तथा नगर मिशन प्रबंधन, सामुदायिक संगठनकर्ता एवं सामुदायिक संसाधन सेविकाओं ने भाग लिया।

प्रशिक्षण के दौरान कार्यपालक अभियंता ने बताया कि ये माननीय मुख्यमंत्री जी का सबसे महत्वकांक्षी योजना है, इस योजना के तहत शहरी क्षेत्र के जितने भी प्रवासी मजदूर हैं उनको रोजगार सुनिश्चित करना है, अगर उनको हम रोजगार नहीं दे सकते हैं तो हम उन्हें बेरोजगारी भत्ता देंगे जो अनिवार्य है, इसके लिए निदेशालय स्तर पर प्रशिक्षण दिया जा रहा है जो ऑनलाइन हैं l
कार्यपालक अभियंता ने यह भी बताया कि रामगढ़ शहरी क्षेत्र में बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए इससे बेहतर प्लेटफार्म और कुछ नहीं हो सकता है, और इसके शुरू होने से रामगढ़ के मजदूरों को बाहर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी क्योंकि सरकार के जितने भी विभाग हैं और जितनी भी योजनाएं चल रही हैं सभी जगह पर हम मजदूरों को इंगेज करेंगे, यह हमारे रामगढ़ नगर परिषद क्षेत्र में रोजगार लेने वाले लोगों के लिए वरदान साबित होगी l
इस मौके पर प्रशिक्षण लेने वाली एक महिला ने बताया कि मुख्यमंत्री श्रमिक योजना का प्रशिक्षण चल रहा है, इसका मुख्य उद्देश्य कोविड-19 के दौरान जो प्रवासी मजदूर
दूसरे राज्यो से अपने राज्य झारखंड मेंं आए हैं वे अभी बेरोजगार हैं वैसे अकुशल मजदूरोंं को एक सौ दिन रोजगार देना है l
प्रशिक्षण के क्रम में प्रशिक्षण लेने वाले एक अभियंता ने बताया कि मुख्यमंत्री श्रमिक योजना का ऑनलाइन प्रशिक्षण चल रहा है, इसमें अकुशल मजदूरों को वर्ष में एक 100 दिन रोजगार देना है और रोजगार नहीं मिलने की हालत में बेरोजगारी भत्ता देना हैं