Logo
ब्रेकिंग
Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार

Gola जंगली क्षेत्रों में हाथियों का उपद्रव, 24 घंटे के भीतर हाथियों ने दो लोगों को कुचल कर मार डाला

वन विभाग क्षेत्र के लोगों को सुरक्षा के लिए सुविधा मुहैया कराए:ममता देवी

रामगढ़ जिला के गोला प्रखण्ड में हाथियों ने पिछले दो-तीन दिनों से उपद्रव मचाना आरंभ कर दिया है। हाथियों ने पिछले रविवार की रात एक व्यक्ति और सोमवार की रात को एक व्यक्ति को कुचल कर मार दिया है।

इससे गोला प्रखंड के जंगली क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के बीच भय और दहशत का माहौल दिख रहा है। जानकारी के अनुसार गोला प्रखंड के साडम पंचायत के जयन्ती बेडा में जंगली हाथियों ने अपनी चपेट में एक व्यक्ति को ले लिया।

जिससे कि सालम पंचायत के जयंती बेड़ा के रहने वाले सुलेमान अंसारी की घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गई। इस बात की जानकारी स्थानीय लोगों ने वन विभाग के अधिकारियों को दिया। साथ ही स्थानीय विधायक ममता देवी को भी जानकारी दी गई। विधायक ममता देवी को जानकारी मिलते ही उन्होंने अपने विधायक प्रतिनिधि अमित महतो को घटनास्थल भेजा। और विधायक ने तुरन्त फोरेस्ट विभाग से बात कर 5000 नगद व आपदा विभाग से 4 लाख रुपए मुआवजा व अंबेडकर आवास दिलाने की बात कहीं।

फोरेस्ट विभाग के अधिकारियों से बात कर उन्होंने कहा की जंगली हाथियों को यहां से भगाने को लेकर टीम बुलाया जाए। ग्रामीणो को टॉर्च, लाइट,स्ट्रीट लाइट की व्यवस्था कराई जाए। क्योंकि आए दिन जंगली हाथियों का उत्पात से ग्रामीण भयभीत रहते हैं।इनकी फसलों को हाथियों द्वारा नष्ट कर दी जाती है।फसलों को मुआयना कर इन्हें उचित मुआवजा भी दी जाए।