Logo
ब्रेकिंग
Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार

रामगढ़ पीआरसी के कमांडेंट सह छावनी परिषद के ब्रिगेडियर को वाहन ने मारी टक्कर, हालत गंभीर

रामगढ़ : पीआरसी के कमांडेंट सह छावनी परिषद के ब्रिगेडियर एनएस चारग को तेज रफ्तार से आ रही अज्ञात वाहन ने मारी टक्कर, जिससे उन्हें गंभीर चोट लगी और उनकी हालत गंभीर हो गई। सूचना मिलते ही बीआइटी मेसरा थाना की पुलिस मौके पर पहुंची और ब्रिगेडियर को तत्काल नजदीकी अस्पताल भेजा गया। बाद में यहां से नामकुम स्थित मिलिट्री हॉस्पिटल इलाज के लिए ले जाया गया।

मगर स्थिति की गंभीरता को देखकर चिकित्सकों ने ब्रिगेडियर को वहां से बेहतर इलाज के लिए लखनऊ रेफर किया । जहां त्वरित कार्रवाई करते हुए ब्रिगेडियर को बीकेटी वायु सेना सब स्टेशन पर विशेष विमान से लाया गया । कमांड हॉस्पिटल में उनका बेहतर इलाज करते हुए उनका ऑपरेशन किया गया अभी उनकी हालत पहले से बेहतर है।

प्रतिदिन साइकिलिंग पर निकलते थे ब्रिगेडियर

ब्रिगेडियर चारग प्रतिदिन साइकिलिंग पर निकला करते थे इसी के तहत शनिवार को रामगढ़ से साइकिलिंग करते हुए रांची आ रहे थे। मेसरा रेलवे ब्रिज के समीप दुर्घटना के शिकार हो गए। दुर्घटना में ब्रिगेडियर का पांव टूट गया है। कमर व माथे पर काफी चोट आई है। घटना सुबह करीब 7:00 बजे के आसपास की है।

ब्रिगेडियर सुबह पांच बजे के करीब रामगढ़ छावनी से साइकिलिंग के लिए निकले थे। इस दरमियान मेसरा रेलवे ब्रिज के समीप तेज रफ्तार से आ रही अज्ञात वाहन की चपेट में आकर दुर्घटना के शिकार हो गए।

सूचना मिलते ही बीआइटी मेसरा थाना की पुलिस मौके पर पहुंची और ब्रिगेडियर को तत्काल नजदीकी अस्पताल भेजा गया। बाद में यहां से नामकुम स्थित मिलिट्री इलाज अस्पताल ले जाया गया। स्थिति को गंभीर देखकर वहां से उन्हें बेहतर इलाज के लिए लखनऊ रेफर किया गया