महत्वपूर्ण सूचना : उपायुक्त ने प्रेस वार्ता कर कोरोना सहित अन्य विषयों पर दी विशेष जानकारी

बिना मास्क पहने घर से बाहर निकलने वालों पर होगी कार्रवाई वसूला जाएगा फाइन : डीसी

yamaha

रामगढ़: उपायुक्त श्री संदीप सिंह ने जिला समाहरणालय सभागार में विभिन्न मीडिया संस्थानों के प्रतिनिधियों के साथ प्रेस वार्ता कर जिले में कोरोना सहित अन्य विषयों पर हो रहे कार्यों के संबंध में जानकारी दी।

बैठक के दौरान उपायुक्त ने सबसे पहले जानकारी देते हुए बताया कि जिले में अब तक कुल 152 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई है, जबकि आज अभी तक 4 नए मामले सामने आए हैं इन सभी में 123 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। जबकि जिले में अब एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या 33 है। इस दौरान उन्होंने कहा कि बीते हफ्ते से रामगढ़ जिला में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में वृद्धि हुई है इसके लिए दो क्लस्टरों को चिन्हित किया गया है। जिनमें एक पतरातू प्रखंड स्थित सीआईएसएफ यूनिट एवं एक रामगढ़ छावनी परिषद क्षेत्र अंतर्गत सौदागर मोहल्ला है।

सौदागर मोहल्ला में रह रही एएनएम हाल ही में बिहार राज्य से लौटी थी एवं कोरोना संबंधित प्रोटोकॉल का पालन ना करते हुए अपने कार्यों में जुट गई थी। जिला प्रशासन द्वारा इस पर कार्रवाई की जा रही है गौरतलब हो कि जिला प्रशासन द्वारा पूर्व में ही अन्य राज्यों से वापस लौटे सभी व्यक्तियों के लिए सैंपल जांच एवं क्वॉरेंटाइन आदि से संबंधित दिशा निर्देश जारी किए गए हैं।

प्रेस वार्ता के दौरान जानकारी देते हुए उपायुक्त ने कहा कि यह हर व्यक्ति की स्वयं की जिम्मेवारी है कि वह अगर किसी और राज्य से रामगढ़ जिला वापस लौटा है तो वह अपने घर जाने के पूर्व नजदीकी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में जाकर अपने कोरोना जांच हेतु सैंपल दे एवं जांच रिपोर्ट आने तक सरकारी क्वॉरेंटाइन में रहे। अगर किसी के द्वारा इसकी अवमानना की जाती है तो यह एक्ट के प्रावधानों के अनुसार दंडात्मक है। इसके साथ ही जिला प्रशासन द्वारा गठित फील्ड सर्विलेंस टीम के द्वारा लगातार विभिन्न क्षेत्रों का निरीक्षण किया जा रहा है एवं जहां कहीं भी इस तरह की सूचना प्राप्त हो रही है उस पर कार्रवाई की जा रही है।

प्रेस वार्ता के दौरान उपायुक्त ने कहा कि जिला स्तर से आदेश निर्गत किया गया है कि जिला अंतर्गत सभी दवाई दुकानदार कोरोना लक्षण से संबंधित को व्यक्ति किसी प्रकार की दवा लेने आता हैं तो उनसे संबंधित फॉर्मेट में जानकारी ली जाए एवं उसे जिला प्रशासन को भेजा जाए ताकि उस पर सही कार्रवाई की जा सके।*

इसके साथ ही उन्होंने जिला अंतर्गत प्राइवेट क्लीनिक चला रहे सभी चिकित्सकों को भी कोरोना लक्षण से संबंधित किसी प्रकार के किसी मरीज के आने पर उसकी सूचना जिला प्रशासन को देने की बात कही।

प्रेस वार्ता के दौरान उपायुक्त ने कहा कि जिले में कोरोना जांच हेतु सदर अस्पताल रामगढ़ में दो ट्रूनेट मशीनव4 लगाए गए हैं उन के माध्यम से प्रतिदिन आ रहे सैमपलों ओं की जांच की जा रही है।

प्रेस वार्ता के माध्यम से उपायुक्त ने सभी जिले वासियों से अपील की कि वे कोरोना से बचाव हेतु सजग रहें बेहद जरूरी कार्य होने पर ही घर से बाहर निकले एवं मास्क, सैनिटाइजर आदि का अनिवार्य रूप से प्रयोग करें।

दुकानदारों ने बिना मास्क के अगर ग्राहक को सामान दिया तो उनका दुकान होगा सील

प्रेस वार्ता के दौरान उपायुक्त ने जानकारी दी कि जिला प्रशासन द्वारा विशेष ड्राइव चलाई जा रही है इस दौरान जिन दुकानदारों के द्वारा बिना मास्क के आए लोगों को सामान दिया जा रहा है उन्हें सील करने की कार्रवाई की जा रही है।

बिना मास्क पहने घर से बाहर निकलने वालों पर होगी कार्रवाई वसूला जाएगा फाइन

प्रेस वार्ता के दौरान उपायुक्त ने जानकारी दी कि अब तक जिले में बिना मास्क के घरों से बाहर निकले लोगों पर फाइन करते हुए कुल डेढ़ लाख रुपए से ऊपर की राशि वसूली गई है। लेकिन जिला प्रशासन का उद्देश्य फाइन वसूलना नहीं बल्कि लोगों के बीच कोरोना से बचाव के उपायों के प्रति जागरूकता फैलाने का है।

3000 से ज्यादा लोगों ने स्वयं से अपना राशन कार्ड सरेंडर कर दिया है

राशन कार्ड के संबंध में जानकारी देते हुए उपायुक्त ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा अवैध रूप से राशन कार्ड रखने एवं इसका इस्तेमाल करने के संबंध में विशेष अभियान चलाया गया था। जिस दौरान कई लोगों से फाइन वसूली की गई एवं कई लोगों द्वारा स्वयं से राशन कार्ड सरेंडर करने का कार्य किया गया। जिसमें अब तक कुल 3000 से ज्यादा लोगों ने स्वयं से अपना राशन कार्ड सरेंडर कर दिया है। जिला प्रशासन द्वारा इस तरह के अभियान नियमित अंतराल पर चलाए जाते रहेंगे एवं सभी अवैध राशन कार्ड धारियों से अनुरोध है कि वह स्वयं से अपना राशन कार्ड सरेंडर कर दें अथवा जांच में पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

जरूरतमंद लोगों को शत-प्रतिशत रोजगार उपलब्ध कराने का कार्य किया जा रहा है : डीसी

उपायुक्त ने कहा कि मनरेगा के तहत देश के अलग-अलग राज्यों से लौटे प्रवासी मजदूरों एवं अन्य जरूरतमंद लोगों को शत-प्रतिशत रोजगार उपलब्ध कराने का कार्य किया जा रहा है। इसके साथ ही सभी प्रवासी मजदूरों की स्किल मैपिंग का भी कार्य किया जा रहा है ताकि उन्हें उनके कौशल के हिसाब से रोजगार से जोड़ा जाए। इस दौरान उपायुक्त ने कहा कि स्किन मैपिंग के कार्य हेतु नीति आयोग के माध्यम से एनजीओ को भी टैग किया गया है

प्रेस वार्ता के दौरान उप विकास आयुक्त श्री संजय सिन्हा, सिविल सर्जन डॉक्टर नीलम चौधरी, जिला परिवहन पदाधिकारी सह जिला आपूर्ति पदाधिकारी श्री के के राजहंस, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी सह कार्यपालक दंडाधिकारी श्रीमती रजनी रेजिना इंदवार, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी शशांक शेखर मिश्र सहित जिले के विभिन्न मीडिया संस्थानों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.