बिजली गिरने के दौरान मजबूत छत वाला पक्का मकान सबसे सुरक्षित है.

yamaha

रामगढ़ : बिजली गिरने के दौरान मजबूत छत वाला पक्का मकान सबसे सुरक्षित है. घरों में तड़ित चालक लगवाएं
बिजली से चलने वाले उपकरण बंद कर दें.
यदि किसी वाहन पर सवार हैं तो तुरंत सुरक्षित जगह चले जाएं.
टेलीफोन, बिजली के पोल के अलावा टेलीफोन और टीवी टावर से दूर रहें.
कपड़ा सुखाने के लिए तार का प्रयोग ना कर जूट या सूत की रस्सी का उपयोग करें.
किसी इकलौते पेड़ के नीचे नहीं जाएं.
यदि जंगल में हैं, तो बौने (कम ऊंची पेड़) और घने पेड़ों के नीचे जाएं.
दलदल वाले स्थानों और जलस्रोतों से दूर रहने की कोशिश करें.
गीले खेतों में हल चलाने या रोपनी करने वाले किसान और मजदूर सूखे स्थानों पर जाएं.
ऊंचे पेड़ के तनों या टहनियों में तांबे का एक तार बांधकर जमीन में काफी गहराई तक दबा दें ताकि पेड़ सुरक्षित हो जाए.
नंगे पैर फर्श या जमीन पर कभी खड़े ना रहें.बादल गर्जन के दौरान मोबाइल और छतरी का प्रयोग न करें.
आंधी-बारिश व तूफान के दौरान तत्काल बाद घर से बाहर न निकलें. देखा गया है कि बादल गर्जन व तेज बारिश के होने के 30 मिनट बाद तक बिजली गिरती है.
अगर कहीं कोई तेज बारिश में फंस जाएं तो अपने हाथों को घुटनों पर और सिर को घुटनों के बीच में रखें.इससे शरीर को कम-से-कम नुकसान होगा.
घरों के दरवाजे व खिड़कियों पर पर्दा लगा देना चाहिए.
बादल गर्जन और बारिश के दौरान घर के नल, टेलीफोन ,टीवी और फ्रिज आदि न छूएं.
बारिश में दो पहिया वाहन, साइकल, नौका और दूसरे खुले वाहन में हों, तो तत्काल रोककर सुरक्षित स्थान पर चले जाएं.
बिजली और टेलीफोन के पोल के नीचे न खड़े हों.उस दौरान खेतों में खड़े न हों.

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.