Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

Ramgarh शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने शहीद सोना सोबरन प्लसटू हाई स्कूल का निरीक्षण किया

सोना-सोबरन स्कूल का विस्तार जल्द : शिक्षा मंत्री

रामगढ़: झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने शुक्रवार को प्रखण्ड के बरलंगा पंचायत के लुकैयाटांड़ में शहीद सोना सोबरन प्लसटू हाई स्कूल का निरीक्षण किया। सोबरन सोरेन की समाधि स्थल के पास सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो और झामुमो जिला अध्यक्ष विनोद किस्कु ने विद्यालय का विस्तार करने पर अपनी सहमति दी।
संबंधित विभाग को शीघ्र इसके भवन बनाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि आसपास के गांवों के बच्चों को बेहतर शिक्षा मिल सके, सरकार हरसंभव सहयोग करने की दिशा मेंं काम कर रही है। मौके पर झामुमो बोकारो जिला अध्यक्ष हीरालाल मांझी, केन्द्रीय सदस्य भुन्नु महतो, रेखा सोरेन, स्कूल के प्रधानाध्यापक ऋषिकेश महतो, प्रखण्ड अध्यक्ष बरतु करमाली, जिला उपाध्यक्ष राजू साव, मोहम्मद आलम अंसारी अादि मौजूद थे।

पूर्व मुख्यमंत्री शिबु सोरेन ने सन् 1993 मे स्कुल की स्थापना की थी

निरीक्षण के क्रम में शिक्षा मंत्री जी ने कहा कि जल्द ही विद्यालय का विस्तार किया जाएगा! साथ ही स्कूल परिसर में नया भवन भी बनाया जाएगा जिससे आसपास के गांवो के पढ़ने वाले विद्यार्थी को बेहतर शिक्षा मिल सके! बताया जाता है कि हेमन्त सोरेन के मुख्यमंत्री बनने के बाद स्कूल का एक प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री आवास जाकर उनसे मुलाकात की थी और उनके समक्ष भवन निर्माण की बात रखी थी!बताते चले कि शिबु सोरेन ने सन् 1993 मे स्कुल की स्थापना की थी!