Logo
ब्रेकिंग
Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l

राम मंदिर के लिए नकली रसीद पर चंदा उगाहने वाले पर FIR, बीजेपी नेता बोले- इसके पीछे कांग्रेस और वामपं

भोपाल: अयोध्या में राम की नगरी में बन रहे रामलल्ला के भव्य मंदिर के लिए देश भर से धन संग्रहण हो रहा है, जिसे लेकर कांग्रेस लगातार बयानबाजी कर रही है कि इस धन का उपयोग गलत तरीके से हो रहा है। इसी बीच राजधानी भोपाल में एक युवक को हिरासत में लिया गया है जो फर्जी कूपन देकर राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा मांग रहा था। पुलिस ने युवक के खिलाफ धोखाधड़ी के तहत मामला दर्ज किया है। वहीं बीजेपी नेता विश्वास सारंग ने इसे कांग्रेस और वामपंथ की साजिश बताया है। मंत्री सारंग ने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ता नकली रसीदें छपवाकर पैसा वसूल रहे हैं।

जानकारी के अनुसार, अशोका गार्डन थाना में युवक मनीष राजपूत के खिलाफ विहिप के जिला सह मंत्री यतेंद्रपाल सिंह की शिकायत पर एफआईआर दर्ज हुई है जो राम मंदिर निर्माण के लिए फर्जी कूपन देकर अवैध धन संग्रह कर रहा था। मामले का खुलासा तब हुआ जब विहिप के पदाधिकारी चंदे के लिए 31 जनवरी को अशोका गार्डन थाना क्षेत्र में फ्रेंड्स कॉलोनी में शशांक जयसवाल की दुकान पर पहुंचे तो दुकानदार ने एक रसीद दिखाते हुए पहले ही सहयोग राशि देने की बात कही। रसीद पर मनीष राजपूत नामक व्यक्ति द्वारा 151 रुपए लेने की जानकारी दी गई। विहिप पदाधिकारी ने बताया कि दुकानदार द्वारा ‘राम भूमि संकल्प सोसाइटी भोपाल’ की रसीद दिखाई गई, जो राम जन्म भूमि न्यास द्वारा अधिकृत रसीद नहीं थी।

वहीं चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने इस घटना के लिए कांग्रेस और वामपंथी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि ये कांग्रेस की साजिश है। कांग्रेस ओर वामपंथी धन संग्रह को बदनाम करने की कोशिश कर रही हैं। कांग्रेस के कार्यकर्ता चंदे की फर्जी रसीद छपवा कर अवैध वसूली कर रहे हैं।