इंदौर में आशा पवार ने लगवाया पहला कोरोना वैक्सीन

इंदौर: देशभर में शुरू हुए वैक्सीनेशन के साथ ही इंदौर में भी वैक्सीनेशन कि 10:30 बजे शुरुआत हुई। इस दौरान फ्रंटलाइन वॉरियर आशा पवार, शिव शिंदे, सीएमएचओ पूर्णिमा गडरिया सहित अन्य लोग पहुंचे और वैक्सीनेशन में अपनी भागीदारी दर्ज कराई। इस दौरान संभागायुक्त पवन कुमार शर्मा ने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश में शुरू हुआ वैक्सीनेशन का सिलसिला निश्चित ही प्रशंसनीय है।

वहीं बीजेपी विधायक महेंद्र हार्डिया ने वैक्सीनेशन को केंद्र और राज्य सरकार की एक बड़ी पहल बताया। वहीं बीजेपी सांसद शंकर लालवानी ने कोरोना काल के दौरान अपने अनुभव को साझा करते हुए कहा कि वक्त बहुत चुनौतीपूर्ण था। साथ ही उन्होंने मीडिया कर्मियों को भी फ्रंटलाइन वॉरियर में शामिल कर जल्द वैक्सीनेशन लाभ दिए जाने की बात कही। इसको लेकर उन्होंने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भी एक पत्र लिखा है।

वहीं इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि आज 5 कोविड वैक्सीन सेंटर बनाये गए है। इनमें एक सेंटर पर 100 जनो को वैक्सीन लगेगा। इस तरह से कुल 500 जनो को कोविड वैक्सीन लगेगा। इंदौर जिले में 126 सेंटर बनाये गए जिसे धीरे-धीरे ज़रूरत के हिसाब से बढ़ाया जाएगा। वही यह भी बताया कि जैसे अन्य बीमारियों का वैक्सिनेशन होता आया है, वैसे ही होगा। यह पूर्ण रूप से सुरक्षित है। यह वैक्सीन 2 डोज वैक्सीन के लगने के बाद एंटीबॉडी डेवलप हो जाती है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन सभी को लगेगा। अभी फिलहाल शुरु में 18 साल से कम और प्रेग्नेंट महिलाओं को नहीं लगेगा और 50 साल से ऊपर के सभी लोगों को लगेगा। पहले चरण में हेल्थ वर्कर्स को लगेगा जिनकी संख्या 30 हजार है उसके बाद, फ्रंटलाइन वरिययर्स को लगेगा जिसमें पुलिस प्रशासन ,नगरीय प्रशासन, नगर निगम ,जिला पंचायत है।

Whats App