Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

6 राज्यों में भाजपा-कांग्रेस समेत स्थानीय राजनीतिक दलों को चुनौती देगी AAP

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज आम आदमी पार्टी की नौवीं राष्ट्रीय परिषद की बैठक को संबोधित किया। केजरीवाल ने इस बैठक में छह राज्यों उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और गुजरात में चुनाव लड़ने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि देशभर के लोग AAP से प्यार करते हैं और उम्मीद भरी नजरों से देख रहे हैं। दिल्ली की तरह ही सभी राज्यों की जनता को 24 घंटे मुफ्त बिजली व पानी, अच्छे स्कूल और अस्पताल चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारे लिए देश महत्वपूर्ण है। AAP का सिर्फ एक जरिया है और इसके द्वारा हमें देश को बदलना है। AAP जानती है कि 21वीं व 22वीं सदी का भारत कैसा होगा? हमारे पास इसका विजन है, बाकी पार्टियों के पास कोई विजन नहीं है।

AAP के विधानसभा स्तर पर तीनों चुनाव ऐतिहासिक रहे कापसहेड़ा के एक रिजार्ट में पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में देशभर के सदस्यों को संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में हमने विधानसभा स्तर पर तीन चुनाव लड़े हैं और हर चुनाव ऐतिहासिक रहा। पार्टी ने मात्र 49 दिनों में एक ऐसी सरकार चलाई कि अगली बार लोगों ने 70 में से 67 सीटें AAP को दीं। इस तरह दूसरा चुनाव भी अपने AAP में ऐतिहासिक था कि 70 में से 67 सीटें आई जो कि आज तक किसी भी पार्टी को इतना जबरदस्त बहुमत अपने देश में नहीं मिला है।

बहस करने की चुनौती देकर भाजपा भाग खड़ी हुई

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जोश-जोश में आकर उत्तर प्रदेश के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने AAP को चुनौती देते हुए कहा कि मनीष सिसोदिया आएं और हमारे साथ डिबेट करें। मनीष पहुंचे तो वे मैदान छोड़कर भाग खड़े हुए। जब मनीष उनके स्कूल देखने के लिए गए तो योगी जी ने अपनी पुलिस भेज करके उनको रोक लिया। इसके बाद उत्तराखंड के मंत्री मदन कौशिक ने चुनौती दी कि मैं 100 मिनट में 100 काम गिना दूंगा। मनीष जी उत्तराखंड पहुंच गए, लेकिन मदन कौशिक भी वहां से भाग खड़े हुए।

AAP सरकार ने कोरोना के समय किया बेहतर काम

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के पीक के समय सबसे ज्यादा कठिन परिस्थिति थी। 11 नवंबर को दिल्ली में 8.5 हजार केस एक दिन में आए। पूरी दुनिया के अंदर किसी भी शहर में इतने ज्यादा केस कभी नहीं आए। इस दौरान आप सरकार ने शानदार तरीके से सेवाओं का प्रबंधन किया।

70 सालों से भाजपा-कांग्रेस ने जान बूझकर देश को गरीब रखा

केजरीवाल ने कहा कि अगर पांच साल के अंदर हम लोग यह कर सकते थे, तो 70 साल में भाजपा और कांग्रेस वाले भी कर सकते थे। इसका मतलब है? कि दोनों पार्टियों ने जानबूझकर अपने देश को पिछड़ा रखा। देशवासियों को गरीब और अनपढ़ रखा गया। इन पार्टियों के पास कोई विजन नहीं है। इनकी नीयत खराब है।