उत्तर पूर्वी दिल्ली हिंसा: मृतकों की संख्या बढ़कर 18 हुई, 200 से भी ज्यादा घायल

yamaha

नई दिल्ली: उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में अब तक 18 लोगों की मौत हो गई है जबकि घायलों की संख्या 200 से भी ज्यादा है। गुरु तेग बहादुर (GTB) अस्पताल के अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। हालांकि राज्य में देर शाम के बाद कोई हिंसक घटना की खबर नहीं है। दिल्ली में भारी पुलिस बल तैनात है और गलियों में भी राउंड लगाए जा रहे हैं ताकि कहीं भी ज्यादा लोग इकट्ठे न हो पाए।

भजनपुरा और खजूरी खास इलाके में मंगलवार को आगजनी और पथराव होने के बाद पुलिस ने फ्लैग मार्च किया। भजनपुरा में बैटरी की एक दुकान जला दी गई। उस दुकान में तोड़फोड़ की गई। सड़क पर जली हुई बैटरियां बिखरी नजर आईं।

PunjabKesari

स्कूल आज भी बंद
उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को कहा कि हिंसा प्रभावित उत्तर पूर्वी दिल्ली में निजी और सरकारी स्कूल बुधवार को भी बंद रहेंगे। दिल्ली के शिक्षा मंत्री सिसोदिया ने बताया कि स्कूलों ने सभी आंतरिक परीक्षाएं टाल दी हैं।

बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी के उत्तर पूर्वी इलाके में मंगलवार को चांदबाग और भजनपुरा सहित कई क्षेत्रों में एक बार फिर से हिंसा हुई। दंगाइयों ने गोकलपुरी में दो दमकल वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया। भीड़ भड़काऊ नारे लगा रही थी और मौजपुर और अन्य स्थानों पर अपने रास्ते में आने वाले फल की गाड़ियों, रिक्शा और अन्य चीजों को आग लगा दी। पुलिस ने दंगाइयों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े। इन दंगाइयों ने अपने हाथों में हथियार, पत्थर, रॉड और तलवारें भी ली हुई थीं। कई ने हेलमेट पहन रखे थे।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.